Essay in hindi – हिंदी में निबंध [Top 300+ Hindi Nibandh Topics]

हिंदी में निबंध – Essay in hindi : इस लेख में हम इसी विषय पर चर्चा करेंगे और हम यह भी जानेंगे निबंध क्या है, इसके कितने प्रकार हैं, कई सारे उदाहरण के साथहिंदी में निबंध – Hindi Nibandh इतना कठिन भी नहीं है, बस आपको जिस विषय पर हिंदी में निबंध लिखना चाहते हो पहले उस विषय के बारे में अच्छे से जानकारी हासिल करें, उसके बाद ही आप हिंदी में निबंध – hindi nibandh लिखने में कामयाब होंगे यह मेरा गारंटी है। और वैसे भी इस लेख में 500 से भी ज्यादा हिंदी निबंध के उदाहरण दिए गए हैं, जिसको आप पर के बहुत आसानी से हिंदी में निबंध लिख सकते हैं।

इस लेख में, हम 5वीं, 6वीं, 7वीं, 8वीं कक्षा के छात्रों के लिए तर्कपूर्ण निबंध, प्रौद्योगिकी पर निबंध, पर्यावरण हिंदी में निबंध जैसे विभिन्न श्रेणियों के कई अच्छे निबंध विषयों को सूचीबद्ध करेंगे। निबंध विषयों की निम्नलिखित सूची सभी के लिए है – बच्चों से लेकर कॉलेज के छात्रों तक। हमारे पास हिंदी निबंधों का सबसे बड़ा संग्रह है। एक निबंध और कुछ नहीं बल्कि सामग्री का एक टुकड़ा है जो लेखक या लेखक की धारणा से लिखा गया है। निबंध एक कहानी, पैम्फलेट, थीसिस आदि के समान हैं।

क्या आप जानते हैं कि ‘निबंध‘ –Essay in hindi एक लैटिन शब्द “एग्जियम से लिया गया है, जो मोटे तौर पर किसी के मामले को प्रस्तुत करने के लिए अनुवाद करता है। इसलिए हिंदी निबंध तर्क के पक्ष या किसी के अनुभवों, कहानियों आदि का प्रतिनिधित्व करने वाला लेखन का एक छोटा टुकड़ा है। Essay in hindi हिंदी में निबंध बहुत व्यक्तिगत हैं। तो आइए जानें हिंदी निबंध के प्रकार, प्रारूप और निबंध-लेखन की युक्तियों के बारे में।

What Is Essay Writing in hindi – हिंदी में निबंध क्या है 

एक हिंदी निबंध- Essay in hindi आम तौर पर लेखक के दृष्टिकोण या कहानी को रेखांकित करने वाला लेखन का एक छोटा सा अंश होता है। इसे अक्सर एक कहानी या एक पेपर या एक लेख का पर्याय माना जाता है। निबंध औपचारिक भी हो सकते हैं और अनौपचारिक भी।

औपचारिक निबंध आमतौर पर अकादमिक प्रकृति के होते हैं और गंभीर विषयों से निपटते हैं। हम अनौपचारिक निबंधों पर ध्यान केंद्रित करेंगे जो अधिक व्यक्तिगत होते हैं और अक्सर विनोदी तत्व होते हैं।

Type of Essay (Nibandh) -निबंध के प्रकार

निबंध का प्रकार इस बात पर निर्भर करेगा कि लेखक अपने पाठक को क्या बताना चाहता है। निबंध मोटे तौर पर चार प्रकार के होते हैं। देखते हैं।

  1. कथा निबंध: यह तब होता है जब लेखक निबंध के माध्यम से किसी घटना या कहानी का वर्णन कर रहा होता है।
  2. वर्णनात्मक निबंध: यहाँ लेखक किसी स्थान, वस्तु, घटना या शायद स्मृति का भी वर्णन करेगा।
  3. व्याख्यात्मक निबंध: ऐसे निबंध में लेखक किसी विषय का संतुलित अध्ययन प्रस्तुत करता है। ऐसा निबंध लिखने के लिए लेखक को विषय के बारे में वास्तविक और व्यापक ज्ञान होना चाहिए।
  4. प्रेरक निबंध: यहाँ निबंध का उद्देश्य पाठक को तर्क के अपने पक्ष में लाना है। प्रेरक निबंध केवल तथ्यों की प्रस्तुति नहीं है बल्कि पाठक को लेखक के दृष्टिकोण से समझाने का प्रयास है।

All hindi essay topics (Hindi Nibandh)

त्योहार पर निबंध – Essay On Festival

Holi essay in hindi – होली पर निबंध

  • Introduction-परिचय

होली का उत्सव अपने साथ सकारात्मक ऊर्जा लेकर आता है और आसमान में बिखरे गुलाल की तरह ऊर्जा को चारों ओर बिखेर देता है। इस पर्व की ख़ास तैयारी में भी लोगों के अंदर बहुत अधिक उत्साह को देखा जा सकता है।

  • Holi preparations-होली की तैयारी

होली की विशेष तैयारी में एक दिन से ज्यादा का समय लगता है। इस पर्व पर सबके घरों में अनेक पकवान बनाएं जाते हैं जिसमें गुजिया, दही भल्ले, गुलाब जामुन प्रमुख हैं लोग महिनों पहले से अपने घर के छतों पर विभिन्न तरह के पापड़ और चिप्स आदि को सुखाने में लग जाते हैं। मध्यमवर्गीय परिवार भी इस त्योहार पर अपने बच्चों के लिए अवश्य ही कपड़े खरीदता है।

  • How is Holi celebrated-होली कैसे मनाई जाती है ?

होली पर सभी बहुत अधिक उत्साहित होते हैं। बड़े भी बच्चे बन जाते हैं हम उम्र का चेहरा रंगों से ऐसे रंगते हैं की पहचानना मुश्किल हो जाता है वहीं बड़ों को गुलाल लगा उनका आशिर्वाद लेते हैं। अमीर-गरीब, ऊँच- नीच का भेद भुलाकर सभी आनंद के साथ होली में झूमते नज़र आते हैं। झूमने का एक अन्य कारण भांग और ठंडाई भी है यह होली पर विशेष कर पीया जाता है। घर की महिलाएं सारे पकवान बना कर जहां दोपहर से होली खेलना प्रारंभ करती है वहीं बच्चे सुबह उठने के साथ ही तहलके (उत्साह) के साथ मैदान में आ जाते हैं।

  • Holika Dahan a day before Holi-होली के एक दिन पहले होलिका दहन

होली के एक दिन पहले गावं व शहरों के खुले क्षेत्र में होलिका दहन की परंपरा निभाई जाती है। यह भगवान की असीम शक्ति का प्रमाण तथा बुराई पर अच्छाई की जीत का ज्ञान कराती है।

  • निष्कर्ष

होली आनंद से भरा रंगों का त्योहार है यह भारत भूमि पर प्राचीन समय से मनाया जाता है। त्योहारों की ख़ास बात यह है की इसके मस्ती में लोग आपसी बैर तक भूल जाते हैं एवं होली त्योहारों में विशेष स्थान रखता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *